ऐ तकदीर लिखने वाले एक एहसान कर दे, जिंदगी तो तेरी ही दी है वो जिंदगी मेरे नाम कर दे. हर लम्हा खोजती है ये निगाहे, हर सूरत उससी हो, ये भी तू ऐलान कर दे, छुप – छुप के चाहते अरसो हुए, वो मेरा ही है ये तू सरेआम कर दे ऐ तकदीर लिखने वाले एक एहसान कर दे, ...