Flash Sale! to get a free eCookbook with our top 25 recipes.

हक

Hindi Kavita

Hindi Kavita

न मस्जिद की बात हो,
न शिवालों की बात हो,
जनता भूखी है,
निवालों की बात हो,
मेरी नींद को दिक्कत न भजन से है
न अजान से है,
मुझे दुःख तो मरते हुए जवान ,
खुदखुशी करते किशान से है

— ©® Drizzle Aakanksha Khare

Mukesh Pathak
Entrepreneur, CEO & Founder of Indian Achievers Story & Social Hindustan. | Best Content Creator 35 UNDER 35 Madhya Pradesh | Motivational Speaker & Mozilla Tech Speaker